मुख्य समाचार

DAINIKMAIL PUBLIC ALERT पंजाब सरकार की लाइसेंस पालिसी की सख्त शर्तों के विरोध में दफ्तर बंद करने वाले जालंधर के एजेंट क्या स्टडी एक्सप्रेस से ठगे लोगों को देंगे मुआवजा! लाइसेंस पालिसी का अब भी 'जलूस' निकाल रहे हैं ट्रैवल एजेंट

Published on 20 May, 2019 05:07 PM.

पंजाब सरकार ट्रैवल एजेंट पर सख्ती के लिए बनाई गई पालिसी लागू करती है तो एजेंट एकजुट हो जाते है, प्रदर्शन शुरू हे जाते है. सरकार पालिसी नर्म कर लाइसेंस जारी करती है तो कपिल जैसे एजेंट लोगों को रगड़ा लगा कर निकल जाता है तो क्या पालिसी को लेकर शोर मचाने वाले एजेंट अब मिल कर उन लोगों को मुआवजा देंगे जिनकों चूना लगा स्टडी एक्सप्रेस रफूचक्कर हो गया. दरअसल जब पुलिस कार्रवाई होती है तो ट्रैवल एजेंट एक हो जाते है और जब भाग जाए तो चुप हो जाते हैं. दरअसल ट्रैवल एजेंट अभी भी खुल कर पालिसी को मुंह चिढ़ा रहे हैं. पालिसी के मुताबिक अभी तक हर एजेंट को हर कैटेगिरी का अलग लाइसेंस लेना पड़ता है. उदाहरण के तौर पर आईलेटस का अलग, स्टडी वीजा अलग, टूरिस्ट वीजा अलग मगर यहां तो एक ही दुकान पर सारे 'पकवान' बिक रहे हैं टिकिटंग से लेकर हर तरह की वीजा अधिकतर एजेंट एक ही लाइसेंस पर ठोकी जा रहे है जबकि यह पालिसी का उल्लंघन है. इनमें ट्रैवल एजेंट एसोसिएशन के कई मैंबर भी शामिल है. इस बात के पर्याप्त सबूत दैनिकमेल के पास है कि कई एजेंट लाइसेंस लेकर भी 'जैनयुन' काम नहीं कर रहे. हालांकि अब ट्रैवल एजेंट एसोसिएशन एकास लोगो  को सही ट्रैवल एजेंट चुनने के लिए जागरूक कर रही है मगर सवाल यह उठता है कि क्या एसोसिएशन के मैंबर जागरूक हो गए? दैनिकमेल किसी प्रोफेशन के खिलाफ नहीं है मगर लोगों पूंजी लुट जाए इसे भी नजरअंदाज नहीं किया जा सकता. आने वाले दिनों में उक्त एजेंटों का खुलासा होगा जो एक ही लाइसेंस पर कई 'गेम' खेल रहे हैं. यहां बता दे कि द स्टडी एक्सप्रेस लाइसेंस होने के बावजूद कांड कर निकल गया और कई लोगों का पैसा डूब गया.

मुख्य समाचार