मुख्य समाचार

वेरी गुड! जालंधर वेस्ट में 'केक डिप्लोमेसी' से मोहिंदर भगत ने फूंकी जान, दूरियां नजदीकियां बन गयी

Published on 25 Sep, 2020 05:05 PM.

जालंधर वेस्ट में चुनावी माहौल बनाने के लिए भाजपा नेता मोहिंदर भगत करीब तीन साल बाद 'केक डिप्लोमेसी' से वजूद बचाते ओर शक्ति प्रदर्शन करते दिखायो दिए है। करीब तीन साल से जालंधर वेस्ट में लोगो से सोशल डिस्टेंस बना कर रखने वाले मोहिंदर भगत कोरोना के माहौल में कोरोना से जंग जीतने के बाद सोशल डिस्टेंस बनाना और मास्क पहनने वाली शर्तो को भले ही भूल गए मगर मिशन 2022 शायद अब उन्हें याद आ गया है और यही वजह रही कि लंबे समय बाद मोहिंदर भगत अपने जन्म दिन के मौके पर सक्रिय दिखाई दिए है ओट इस जन्म दिन पर उनकी सबसे बड़ी उपलब्धि यह रही कि जालंधर वेस्ट से भाजपा की टिकट मांगने वाले प्रमुख दावेदारों में से एक शीतल अंगुरल भी उनका केक कटवाने पहुंचे जिससे यह birthday सेलिब्रिशन राजनीति के गलियारे में चर्चा छेड़ गया है क्योंकि वेस्ट में भाजपा से टिकट की रेस में मोहिंदर भगत के अलावा शीतल अंगुरल ओर वरेश मिंटू ही प्रमुख माने जा रहे है क्योंकि भाजपा से टिकट माँगने वाले भार्गव कैम्प के एक नेता को युवा नेता संदीप पाहवा से पंगा खासा महँगा पड़ा क्योंकि पाहवा ने सोशल मीडिया में ऐसी बातें की जिस से माहौल काफी बदल गया और बाकी बचे लगभग सभी प्रमुख दवव्दार मोहिंदर भगत की केक डिप्लोमेसी का हिस्सा बन गए है जिससे मोहिंदर भगत ने यह दिखाने की कोशिश की  है कि 2022 में भी भाजपा से मैदान में वही आएंगे 
मुख्य समाचार