मुख्य समाचार

DAINIKMAIL BIG ALERT एससी कमीशन के चेयरमैन सांपला का रास्ता रोकना महंगा पड़ा, प्रदर्शनकारियो पर केस दर्ज

Published on 04 Jun, 2021 09:56 PM.

 

मानसा /चंडीगढ़, 4 जून: मानसा जिले के गांव फफड़े भाईके के एक दलित परिवार को न्याय दिलवाने हेतु जाते, राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के चेयरमैन विजय सांपला का रास्ता रोकने के जुर्म में पंजाब पुलिस ने दलित परिवार की शिकायत पर असमाजिक तत्वों के खिलाफ भीखी थाने में एफआईआर नंबर 75 दर्ज की है। उल्लेखनीय है कि कुछ दिन पहले मानसा में तफ्तीश के लिए थाने ले जाए गए दलित युवक मनप्रीत (20) की घर लौटने के कुछ समय बाद मौत हो गई थी। 

मृतक की माता ने राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के चेयरमैन विजय सांपला को लिखित शिकायत कर इंसाफ की गुहार लगाई थी। आज उक्त शिकायत पर कार्रवाई करते हुए राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के चेयरमैन विजय सांपला स्वयं मानसा में पीडि़त परिवार से मिलने पहुंचे। 

मृतक मनप्रीत की माता भप्पी कौर, पिता मलकीत सिंह एवं गांव के दलित भाईचारे से संबंधित गण्यमान्य व्यक्तियों ने डीआईजी जसकरण सिंह तथा डीसी मानसा महिन्द्र पाल एवं एसएसपी सुरिन्द्र लांबा की उपस्थिति में सांपला को अपनी आपबीती सुनाई। परिवार ने सांपला को अपने बेटे की पोस्टमार्टम रिपोर्ट दिखाई, जिसमें उसके शरीर के कई हिस्सों में जख्मों की पुष्टि हुई थी। इस उपरांत सांपला के आदेशों पर आरोपी भीखी थाना एसएचओ को सस्पेंड कर एफआईआर दर्ज हुई। 

सांपला ने डीसी मानसा को आदेश दिए कि एससी एक्ट के तहत पीडि़त परिवार को दी जाने वाली 8 लाख 25000 मुआवजा राशि में से 4 लाख 25 हजार रुपए तुरंत जारी करें। दिवंगत के छोटे भाई को ग्रेजुऐशन तक मुफ्त शिक्षा देने एवं मृतक के माता-पिता को मकान बनाने के लिए तुरंत बनती अनुदान राशि जारी करने के आदेश भी डीसी मानसा को दिए। मृतक की माता को 5000 रूपए तक प्रति माह की पेंशन देने के आदेश किए। 

पीडि़त परिवार ने इस मुसीबत की घड़ी में राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के चेयरमैन द्वारा किए गए प्रयासों के लिए आभार जताया।

मुख्य समाचार