मुख्य समाचार

DAINIKMAIL EDUCATION ALERT इस काम के लिए पंजाब का पहला कालेज बना एचएमवी, क्लिक कर जाने किस उपलब्धि ने एचएमवी का गौरव बढ़ाया

By जालंधर

Published on 14 Apr, 2017 08:07 PM.


हंसराज महिला महाविद्यालय जो कि लड़कियों की शिक्षा स्तर को उठाने में सदैव अग्रसर है को पब्लिक सर्विस प्रोग्राम प्रदान करने के लिए एक्सीलेंट कॉलेज के अवार्ड से नवाजा गया। यह अवार्ड कम्यूनिकेशन, मल्टीमीडिया और इन्फ्रास्ट्रक्चर, एसोसिएशन ऑफ इंडिया की ओर से कॉलेज की अनगिनत उपलब्धियों के लिए प्रदान किया गया। एच.एम.वी. राज्य का एक अकेला कॉलेज है जिसे इस पुरस्कार से समानित किया गया। यह अवार्ड दूसरी नैशनल पंजाब ऐजूकेशन समिट में दिया गया। प्राचार्या डॉ.श्रीमती अजय सरीन एवं डीन अकादमिक श्रीमति मीनाक्षी स्याल ने इस राउंड टेबल संगोष्ठी में हिस्सा लिया जिसमें राष्ट्रीय स्तर पर ऐजूकेशन पॉलिसी तैयार की गई। वर्तमान शिक्षा प्रााली के मुद्दे पर विचार विमर्श किया गया। पाठयक्रम में बदलाव के मुद्दे पर विस्तार मेें चर्चा की गई। देश के पीएम द्वारा स्किल इंडिया पर किए जा रहे प्रयासों को साकार करने हेतु कहा गया कि कॉलेजों में स्किल आधारित विषयों तथा प्रैक्टिकल ट्रेनिंग कोर्स ज्यादा से ज्यादा चलने चाहिए और उनका पाठ्यक्रम उद्योगों की जरूरत पर होना चाहिए। इस अवसर पर मुयातिथि प्रो. डॉ. एम.पी. पुनिया, उप चेयरमैन, ऑल इंडिया कांउसिल ऑफ टैक्निकल ऐजूकेशन एवं डॉ. एम.एस. मन्ना, डायरैक्टर ए.आई.सी.टी.ई., प्रो. पी.के.तुलसी, डायरैक्टर, नैशनल इंस्टीच्यूट ऑफ टैक्रिकल टीचर ट्रेनिंग एवं रिसर्च, चंडीगढ़ विशेष अतिथि थे। प्राचार्या डॉ श्रीमती अजय सरीन ने प्रबंधक समिति, टीचिंग, नॉनटीचिंग एंव विद्यार्थियों को इस उपलब्धि पर बधाई दी।

मुख्य समाचार