मुख्य समाचार

माझा के इस गांव में कुत्ते के पिल्ले ने दीवार पर चढ़कर भयानक रूप ले लिया, महिला के गले को दबाया और काट दी चोटी

Published on 13 Aug, 2017 03:56 AM.

गुरदासपुर। दोआबा के बाद मालवा और अब माझा में भी चोटी कटने की घटनाओं को बल मिलना शुरू हो गया है। लेकिन यहां के गांव लील कलां में जिस महिला की चोटी कटी, उसकी दास्तां सुनने के बाद गांव के लोग बेहद डर गए हैं। चोटी कटने की शिकार हुई हरजीत कौर पत्नी कुलवंत सिंह के थाना श्री हरगोबिंदपुर की पुलिस की सामने घटनाक्रम सुनाया तो पूरा गांव सहम गया। जी हां, बात ही कुछ ऐसी है जिससे एक बार तो हर कोई सहम जाएगा।
पीड़िता की बेटी संदीप कौर व बेटे जतिंदर सिंह ने बताया कि बीती रात पूरा परिवार एक कमरे में सो रहा था। अचानक मां हरजीत कौर चीखने लगी और सारा परिवार हरजीत कौर के पास पहुंच गया। इस पर हरजीत कौर ने बताया कि उसने एक कुत्ते के पिल्ले को अपने परिसर में घूमता देखा तथा रसोई में जाने के बाद वह उनके कमरे में आया और सबसे पहले उसने उनके पिता कुलवंत सिंह के सिर पर हाथ फेरा व बाद में छत्त पर चिप्पक गया। देखते ही देखते उसने बड़ा रूप धारण कर लिया व एक हाथ के साथ उसके गले को दबोच लिया, जिसके कारण उसकी आवाज बंद हो गई। बेटी संदीप कौर ने बताया कि जब हमने अपनी माता हरजीत कौर के सिर की ओर देखा तो उनके बाल कटे हुए थे तथा गुत बिस्तरे पर पड़ी हुई थी। इस घटना के बाद हरजीत कौर सदमे में है तथा पूरे गांव में भय का माहौल बना हुआ है। थाना प्रभारी यादविंदर सिंह ने बालों को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है।
मुख्य समाचार