मुख्य समाचार

DAINIKMAIL CITY POLITICS वार्डबंदी से खफा पूर्व पार्षद मिंटू वैस्ट के तीन वार्डोॆ में करेॆगे घेराबंदी! निगम चुनावों में ग्रोवर और भाटिया के वार्ड में भी मैदान ए जंग में उतरने की तैयारी में मिंटू परिवार

By जालंधर

Published on 07 Nov, 2017 08:43 AM.

जालंधर वैस्ट से कई बार निगम चुनाव में जीतने वाला मिंटू परिवार वार्डबंदी में अपना वार्ड एससी होने से खफा है. मिंटू के वार्ड को एससी किए जाने से मिंटू फैमिली खफा है. इसलिए यदि परिवार का गुस्सा शांत न हुआ तो निगम चुनावों में कांग्रेस के लिए मिंटू परिवार एक नहीं तीन तीन वार्डो में आजाद कैंडीडेट खड़े कर परेशानी खड़ा कर सकता है. वार्ड नंबर 44 जिस पर गुरविंदर मिंटू पार्षद थी को एससी कर दिया गया है. इसके साथ लगते भाटिया के वार्ड को महिला आरक्षित कर दिया गया है. मिंटू वार्ड नंबर 44 में अपना कैॆडीडेट उतारने के साथ गुरविंदर मिंटू को वार्ड 45 से अब गुरविंदर मिंटू को लड़ाने की तैयारी कर रहे है. इस वार्ड से फिलहाल कारोबारी सूरज नंदा की पत्नी सीमा नंदा कांग्रेस की टिकट के सशक्त दावेदारों में से एक है. यही नहीं पुराना वार्ड 49 और नया वार्ड 37 जिससे कमलेश ग्रोवर पार्षद हैं वहां से मिंटू की बहन बलजीत कौर टक्कर चुनावी मैदान में आने को तैयार है.बलजीत कौर टक्कर कई सामाजिक संगठनों से जुड़ी है और शहर के प्रमुख कारोबारी गुरचरण सिंह टक्कर की पत्नी है. बलजीत कौर टक्कर आजाद लड़ने की तैयारी में है और उन्होंने तो वार्ड में प्रचार भी शुरू कर दिया है. इस वार्ड से ग्रोवर परिवार का कुर्सी पर कब्जा रहा है मगर यहां पिछले तीस साल में आज तक कांग्रेस के किसी परिवार ने ग्रोवर परिवार को चुनौती नहीं दी. यदि बलजीत कौर टक्कर चुनाव लड़ी तो ऐसा इस वार्ड में पहली बार होगा जब कांग्रेस को कांग्रेस से ही चुनौती मिलेगी. बलजीत कौर टक्कर तो अपना प्रचार भी शुरू कर चुकी हैं. इस संबंध में कुलदीप मिंटू ने एक सवाल के जवाब में कहा कि विकल्प खुले हैं और वार्ड 44 और 45 में उनका पुराना आधार है और वार्ड 49 में उनकी बहन पहले से ही तैयारी कर रही है. वार्डबंदी फाइनल होने से पहले कुछ कहना जल्दबाजी होगा मगर यह बात सही है कि हमारा परिवार तीनों वार्डों में आधार रखता है और हमारे लिए विकल्प खुले हैं. खैर जो भी हो मिंटू परिवार क्या करता है यह तो भविष्य के गर्भ में छिपा है मगर एक बात साफ है यदि ऐसा हुआ तो जालंधर वैस्ट से कांग्रेसी विधायक रिंकू को यह बड़ा झटका होगा.
मुख्य समाचार